सिगरेट या धूम्रपान छोड़ने के अचूक उपाय क्या हैं

क्या आप भी सिगरेट पीने के आदी हैं और सिगरेट छोड़ना चाहते हैं तो आज में आपको बताऊंगा की सिगरेट या धूम्रपान छोड़ने के अचूक उपाय क्या हैं. हम हर जगह पढ़ते हैं कि सिगरेट पीना स्वाथ्य के लिए हानिकारक है फिर भी पीते हैं. यदि पोस्ट को पूरा पढ़ते हैं तो आप जान पाएंगे सिगरेट या धूम्रपान से शरीर को होने वाले नुक्सान और सिगरेट या धूम्रपान कैसे छोड़ें. ये पोस्ट सिर्फ उन लोगों के लिए है जो इस लत से परेशान हैं और त्याग करना चाहते हैं.

cigarette ya dhumrapan chodhane ke upaay

सिगरेट या धूम्रपान छोड़ने के अचूक उपाय क्या हैं?

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक़ हर वर्ष लगभग 10 से 15 लाख लोग केवल सिगरेट के कारन मरते हैं. वैश्विक वयस्क तंबाकू सर्वेक्षण (Global Adult Tobacco Survey) के अनुसार भारत में सिगरेट पीने वालों की संख्या लगभग 25 करोड़ है. 

जब आप सिगरेट पीने के लिए डिब्बे में से सिगरेट निकालते होंगे तो उस पर बनी इमेज जरूर देखते होंगे और सोचते होंगे की आज से पीना छोड़ दूंगा, पर कुछ ही समय बाद आप भूल भी जाते होंगे. जब आप कोई फिल्म देखने जाते हैं तो सबसे सुरुआत में एक विज्ञापन आता है जिसमे बताया जाता है की आपके फेफड़ों में कितना टार जमा होता है, सिगरेट की वजह से, तो आप सोचते होंगे कि अब बस बहुत हुआ, आज से ही बंद. लेकिन ये लत इतनी बेकार है की हम चाह कर भी नहीं छोड़ सकते हैं.

सिगरेट या धूम्रपान से शरीर को होने वाले नुक्सान

सिगरेट पीना शरीर के लिए बहुत ज्यादा नुक्सान पहुंचता. कुछ लोग केवल दूसरों को दिखाने के लिए पीते हैं और  फिर इसकी लत लगा लेते हैं. बाद में छोड़ भी नहीं पाते हैं. सिगरेट पीने से होने वाले नुक्सान का हमें पता भी नहीं चलता है पर ये अन्दर से हमें खोखला बना देती है और जब पता चलता है तो बहुत देर हो चुकी होती है. तो आइये जानते हैं इसके नुक्सान के बारे में.

1. श्वास नली को नुक्सान पहुंचता है 

जब भी कोई व्यक्ति सिगरेट पीता है और उसके धुएं को अपने शरीर के अंदर लेता है तो वो धुंआ सीधे फेफड़ों में बैठता है. रोज रोज पीने की वजह से ये धीरे धीरे बहुत बड़ा रूप ले लेता है. फिर आगे चलकर बहुत बड़ी बीमारी का रूप ले लेता है. जिससे या तो आपके फेफड़े जाम होंगे या फिर उनमें कैंसर होगा. 

सिगरेट के धुएं के कारण हमारे फेफड़े बिलकुल काले होकर काम करना बंद कर देते हैं. ऐसे लोग जो काफी समय से ये नशा कर रहे हैं और करते ही चले जा रहे हैं उनके होने वाले बच्चों में खांसी, कफ और निमोनिया हो सकता है. बच्चों में अस्थमा जैसे भयानक बीमारी भी हो सकती है

2. हार्ट से संबंधित समस्याएं होतीं हैं

जो सिगरेट आप पीते हैं उसमे उपस्थित निकोटीन से आपके ब्लड सेल्स में गाढ़ापन आ जाता है जिससे रक्त का प्रसार (Circulation) सही ढंग से नहीं हो पाता है. लगातार सिगरेट के सेवन से रक्त का प्रवाह शरीर ठीक से नहीं हो पाने के कारण हार्ट अटैक आ सकता है, जो की बहुत बड़ी परेशानी है. इसके लगातट सेवन से ब्लड प्रेशर की समस्या भी होने लगती है.

3. त्वचा और बालों के लिए नुकसान

क्या आपको पता है की सिगरेट की लत के कारण आपके बालों और स्किन को भी नुकसान है. इसके कारण दूसरों की अपेक्षा आपके बाल ज्यादा झड़ते हैं साथ ही समय से पहले आपके बाल सफेद भी हो जाते हैं और आपकी त्वचा की रौनक को भी उजाड़ देता है. एक रिसर्च के अनुसार ज्यादा सिगरेट पीने वालों को स्किन कैंसर भी हो सकता है.  यह आपके नाखूनों के लिए भी फंगल इंफेक्शन दे सकता है.

4. पाचन क्रिया को बिगाड़ता है

यदि आप सिगरेट पीते हैं तो आप जो भी खाएंगे उसको आपका शरीर पचाने में दिक्कत करेगा. जब खाना नहीं पचेगा तो आपका पूरा शरीर सही से काम नहीं करेगा, किसी भी काम में मन नहीं लगेगा. इसका सबसे बड़ा ख़तरा आपके मुंह औए गैल के लिए होता है क्योंकि इससे मुंह और गले का कैंसर हो सकता है. यह हमारे शरीर में इंसुलिन की मात्रा को कम कर देता है जिसके कारण टाइप टू डायबिटीज का खतरा भी बढ़ जाता है.

5. सेक्स लाइफ को प्रभावित करता है

चौंकिए मत, जी हाँ सिगरेट के सेवन से आपकी सेक्स लाइफ भी बर्बाद हो सकती है. तम्बाकू में जो निकोटीन पाया जाता है उसके कारण हमारे जेनेटिक क्षेत्र में खून के प्रवाह को रोक देता है जिससे रीप्रोडक्शन सिस्टम खराब हो जाता है. जिससे हमारे संतुलित और खुशहाल जीवन में सेक्स की समस्या उत्पन्न हो जाती है. ये समस्या महिला और पुरुष दोनों में हो सकती है.

सिगरेट या धूम्रपान छोड़ने के अचूक उपाय

सिगरेट आपको सिर्फ तड़पाकर मौत देती है और कुछ नहीं. आज हम मौत की नहीं जिंदगी के लिए बात कर रहे हैं. तो आइये जानते हैं कि सिगरेट कैसे छोड़ें.

सिगरेट खरीदने से पहले आपने आप से पूछें

1. यदि आप पढ़ेलिखे हैं या स्टूडेंट हैं तो खुद से पूछें कि क्या में अपने माता पिता के पैसों से मौत ले रहा हूँ. क्या इसी लिए मेरे माता पिता ने मुझे पढ़ाया है या पढ़ा रहे हैं.

2. यदि आप किसी की नौकरी कर रहे हैं तो अपने आप से पूछिए की क्या में इसी लिए मेहनत करके कमा रहा हूँ.

3. यदि आप शादीशुदा है तो शवाल करें कि यदि मेरी मौत सिगरेट की वजह से हो जाती है तो मेरी पत्नी का क्या होगा.

4. यदि आप एक अच्छे पिता है तो बच्चों के चेहरे को याद करें और पूछें कि क्या में ठीक कर रहा हूँ और सिगरेट के बदले क्या में बच्चों के लिए और कुछ ले सकता हूँ.

खुल्ले पैसे न रखें

यदि आप सिगरेट को अलविदा कहना चाहते हैं तो सबसे पहले पूरा पैकेट न खरीदें. खुल्ले पैसे नहीं होने का फायदा ये है की जब भी आपको सिगरेट पीने का मन होगा तो आपके जेब में पैसे ही नहीं होंगे तो कैसे खरीद सकते हैं. इसलिए कुछ दिनों तक 100 या 500 रुपये के नोट रखें ताकि एक 5-6 रुपये की सिगरेट लेने से पहले आपको सोचना पढ़े.

अपने दोस्तों और आस-पास के लोगों को बताएं

यदि आपने ठान ही लिया है की अब सिगरेट नहीं पीना है तो सबसे पहले अपने दोस्तों और अपने स्टाफ के लोगों को ये बात बतायें. ऐसे दोस्तों से कुछ दिन दूर रहें जो रेगुलर इसका सेवन करते हैं तथा ऐसे लोगों के साथ उठे बैठें जो इसको हाथ भी नहीं लगाते हैं.

ऐसे लोगों के बारे में पढ़ें जिन्होंने सिगरेट छोड़ दी

दुनियां में ऐसे कई लोग हैं जो पहले इसके बिना रह नहीं सकते थे पर आज वे सिगरेट को हाथ भी नहीं लगाते हैं. आपको ऐसे ही लोगों के बारे में पढ़ना है. ऐसी स्टोरी को आप इंटरनेट पर सर्च करके पढ़ सकते हैं.

सिगरेट एक दिन में नहीं छूटती

यदि आप सोचें कि इसकी लत एक दिन में छूट जाए तो ये न मुंकिन है. धीरे-धीरे करके छोड़ें. जाइए मान लीजिये की आप एक दिन में 15 सिगरेट पीते हैं तो पहले दिन इनको 10 करिये फिर 9, फिर 8, फिर 7....6...5.....0. ऐसा करते करते ये एक दिन 0 हो जायेगी.

उपवास रखें

भारत में संस्कृति के हिसाब से लोग तरह तरह की मन्नत पूरी करने के लिए ब्रत रखते हैं. आपको भी ऐसी ही मन्नत के लिए ब्रत रखना है जो आपके जीवन में बहुत महत्वपूर्ण है और ईश्वर से कहें कि जब तक ये मन्नत पूरी नहीं होती तब तक में सिगरेट को मुंह से नहीं लगाऊंगा. 

ऐसे में आपकी मन्नत पूरी हो जाने के बाद भी आपको इसको लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी. आपके जीवन में ऐसा करने से बहुत फर्क पड़ेगा. मन्नत भी पूरी होगी और एक बुरी आदत से छुटकारा भी मिलेगा.

खुद को प्रोत्साहित करें

सिगरेट छूट जाने के बात ये बात लोगों को बताएं और आपके जीवन में जो बदलाव आया है उसे सभी में शेयर करें. इसके साथ ही जो आपके शरीर पर बदलाव आया है उस पर ध्यान दें.

माता पिता से बात करें

ये सबसे कठिन काम है की सिगरेट की बात माँ बाप करें, क्योंकि भारत की संस्कृति में सभी अपने माँ बाप से ये बातें छुपाते हैं. लेकिन आपको बात करनी है की मम्मी-पापा में सिगरेट छोड़ रहा हूँ, वो पका इस आदत को छोड़ने में मदद करेंगे.

एक गुल्लक खरीदें

ऐसा इसलिए करें ताकि जब भी आपका मन पीने का हो तो जो कीमत सिगरेट की है उतने पैसे गुल्लक में डालें और जब महीना पूरा हो जाए तो जितने पैसे एकत्रित हुए हैं उतने पैसों से अपने बच्चों या पत्नी के लिए उनके पसंद की कोई भी चीज ले आएं. 

ऐसा करने से आपके परिवार वाले भी खुश और जब वो खुश तो आप ऑटोमेटिक खुस जिससे जिंदगी में हमेशा सुकून रहेगा.

ये भी पढ़ें - 

तो दोस्तों ये थी सिगरेट या धूम्रपान कैसे छोड़ें की पूरी जानकारी. सिगरेट या धूम्रपान छोड़ने के अचूक उपाय हैं जिनको आप यदि एक महीने तक अपनाते हैं जो निश्चित ही आपकी सिगरेट की लत छूट जायेगी. यदि आपने ये पोस्ट पूरी ईमानदारी से पढ़ी होगी तो आप सिगरेट छोड़ने में सफल होंगे और मुझे कमेंट जरूर करेंगे यदि मेरी पोस्ट के द्वारा किसी की लत छूटती है तो मुझे बहुत खुशी होगी, क्योंकि मेरी मेहनत सफल हो जायेगी.

आपसे निवेदन है की इस पोस्ट को सभी लोगों में शेयर करें ताकि इस नशे से सभी को मुक्ति मिल सके.

धन्यवाद,

एक टिप्पणी भेजें

कृपया गलत भाषा का इस्तिमाल न करें

और नया पुराने